हमारे बारे में

एंजेल वैलफेयर ट्रस्ट एक पूर्ण स्वदेशी संगठन है। यह स्वदेशी लोगों द्वारा प्रबंधित और कार्यान्वित किया जाता है। और यह भारत ट्रस्ट अधिनियम १८८२ के तहत वर्ष २०20 में पंजीकृत है।वर्तमान में यह देश की राजधानी दिल्ली सहित अन्य राज्यों में सक्रिय तौर पर काम कर रहा है। इस न्यास का कार्यक्षेत्र सम्पूर्ण भारत वर्ष है। कोई भी सामाजिक संस्था किसी न किसी मिशन के तहत बनते हैं और चलाए जाते हैं।यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां आप लोगों की सेवा निःस्वार्थ भाव से कर सकते हैं। इस क्षेत्र की विशिष्टता है कि समाजहित की भावना इसमें सर्वोपरि होनी चाहिए। यह उन लोगोंके लिए अच्छा क्षेत्र है, जो सामाजिक समस्याओं के प्रति संवेदनशील हों, समाज हित के विभिन्न पहलुओं पर गहरी निष्ठा, लगन और रुचि के साथ काम करना चाहते हों और सिर्फ पैसा कमाना ही जिनका मकसद न हो। इसी भावना से एंजेल वैलफेयर ट्रस्ट की नींव रखी गई। ज्ञात हो कि ट्रस्ट को नागरिक जो वित्तीय सहयोग देते हैं, उस पर उन्हें आयकर अधिनियम की धारा 80 जी के अन्तर्गत आयकर में छूट प्राप्त होती है। ट्रस्ट में कोई भी वेतनभोगी कर्मचारी नहीं है। अंशकालिक, नियमित वालण्टियर ही सभी कार्यों का संचालन एवं प्रबन्धन करते हैं।

एंजेल वैलफेयर ट्रस्ट देश में एक ऐसे समाज की परिकल्पना करता है जहां महिलाएं, गरीब और अधिकार से वंचित व्यक्ति गरिमा के साथ एक गुणवत्ता जीवन जीते हैं और विकास प्रक्रिया में उनकी भागीदारी के लिए समान अवसर है जोपर्यावरण के अनुकूल एवं दीर्घकालिक है। हम पारिस्थितिक परिवेश को ध्यान में रखकर, सामाजिक संगठन को सुदृढ़ीकरण के माध्यम से विकास प्रक्रिया में सामाजिक और आर्थिक रूप से गरीब, हाशिए वाले वर्गों की भागीदारी के अवसरों का निर्माण करके एक स्थायी समाज के लिए सक्रिय रूप से काम करते हैं और उनका समर्थन करते हैं। हम स्थानीय स्व-शासन, स्थायी आजीविका के उपायों का समर्थन करते हैं और पर्यावरणीय मुद्दों पर प्रतिक्रिया देते हैं, और पीड़ितों को आत्म सम्मान और गरिमा के साथ मुख्यधारा में लाने का प्रयास करते हैं। हम सभी उचित स्तरों पर महिला एवं पुरुष दोनों के सामान अधिकार बढ़ावा देते हैं, गरीबों के पक्ष में संसाधनों को एकत्रित करते हैं और संगठन और अन्य भागीदारों के भीतर मौजूद सभी संभावित और क्षमता को अनुकूलित करते हैं। हमारा उद्देश्य समाज के सर्वांगिण विकाश के लिए शिक्षा, स्वस्थ्य, जीवीकोपर्जन के माध्यम, सरकार द्वारा चलायी जा रही कल्याणकारी योजनाओं इत्यादि को समाज के हर तबके तक पहुँचाना है। तो आईये इसी सोच के साथ हम सब साथ मिलकर एक ऐसे सुखी व समृृ़़द्ध समाज की स्थापना करें जहां काई दुखी न हो।